GA Notes : Important Notes On Indian Heritages in UNESCO List (Part-IV)

Dear Readers,

General Awareness is an equally important section containing same weightage of 25 questions in SSC CGL, CHSL, MTS exams and has an even more abundant importance in some other exams conducted by SSC. Generally, there are questions asked related to Indian Heritages in UNESCO List. So you should know some important facts related to these monuments instead of only name of these so that you can score well in General Awareness section.

To let you make the most of GA section, we are providing important facts related to Indian Heritages listed in UNESCO List. Also, Railway Exam is nearby with bunches of posts for the interested candidates in which General Awareness is a major part to be asked for various posts exams. We have covered important notes focusing on these prestigious exams. We wish you all the best of luck to come over the fear of General Awareness section

Notes On Indian Heritages in UNESCO List

22. Mahabodhi Temple Complex, Bodh Gaya (महाबोधि मंदिर कॉम्प्लेक्स, बोध गया):(2002)

– The Mahabodhi Temple Complex, Bodh Gaya located in the state capital of Bihar, Patna, in Eastern India
(महाबोधि मंदिर परिसर, पूर्वी भारत में बिहार, पटना, की राज्य की राजधानी बोध गया में स्थित है.)
– It is one of the four holy sites related to the life of the Lord Buddha, and particularly to the attainment of Enlightenment
(यह भगवान बुद्ध के जीवन से संबंधित चार पवित्र स्थल और विशेष रूप से प्रबुद्धता की प्राप्ति के लिए प्रसिद्ध है).
–  The Mahabodhi Temple Complex is the first temple built by Emperor Asoka in the 3rd century B.C., and the present temple dates from the 5th–6th centuries.
(महाबोधि मंदिर परिसर तीसरी शताब्दी बीसी में सम्राट अशोक द्वारा निर्मित पहला मंदिर है, और वर्तमान मंदिर 5 वीं-छठी सदी से है.)
– The present Temple is one of the earliest and most imposing structures built entirely in brick from the late Gupta period.
(वर्तमान मंदिर गुप्त अवधि से ईंट से पूरी तरह से निर्मित सबसे प्रारंभिक और सबसे भव्य संरचनाओं में से एक है.)
-The main temple is 50 m in height, built in Indian architectural style, dated between 5th and 6th centuries, and it is the oldest temple in the Indian sub-continent built during the “Golden Age” of Indian culture credited to the Gupta period.
(मुख्य मंदिर ऊंचाई में 50 मीटर है जो भारतीय वास्तु शैली में 5वीं और छठी शताब्दी के बीच निर्मित हुआ है और यह भारतीय उपमहाद्वीप में सबसे पुराना मंदिर है जिसका श्रेय भारतीय संस्कृति के “स्वर्ण युग” गुप्त अवधि को जाता है.)

23. Rock Shelters of Bhimbetka (भीमबेटका की गुफाएं):(2003)

-It is located in the Raisen District (in the foothills of the Vindhya range of hills) in the Indian state of Madhya Pradesh.
(यह मध्य प्रदेश के भारतीय राज्य में रायसेन जिले में (पहाड़ियों की विंध्य श्रृंखला की तलहटी में) स्थित है.)
-The Bhimbetka rock shelters are an archaeological site in central India that spans the prehistoric paleolithic and mesolithic periods, as well as the historic period.
(भीमबेटका गुफाएं मध्य भारत में एक पुरातात्विक स्थल हैं जो प्रागैतिहासिक पुरापाषाण और मध्यपाषाण अवधियों को साथ ही ऐतिहासिक काल तक फैले हैं)
-It consists of seven hills and over 750 rock shelters distributed over 10 kilometres.
(इसमें सात पहाड़ियों और 10 किलोमीटर से अधिक में फैली हुई 750 गुफाएं हैं)
-These cave paintings show themes such as animals, early evidence of dance and hunting.
(इन गुफाओं की चित्रकारी जानवर, नृत्य के शुरुआती प्रमाण और शिकार जैसे विषयों को दर्शाती हैं)
-The Bhimbetka site has the oldest known rock art in the Indian subcontinent, as well as is one of the largest prehistoric complexes.
(भीमबेटका साइट भारतीय उपमहाद्वीप में सबसे पुरानी प्रसिद्ध चट्टान कला है, साथ ही यह सबसे बड़े प्रागैतिहासिक परिसरों में से एक है)
-It is inside the Ratapani Wildlife Sanctuary, embedded in sandstone rocks.
(यह रतपानी वन्यजीव अभयारण्य के अंदर है, जो बलुआ पत्थर चट्टानों में स्थित है)
-It consists of seven hills: Vinayaka, Bhonrawali, Bhimbetka, Lakha Juar (east and west), Jhondra and Muni Babaki Pahari.
(इसमें सात पहाड़ियों हैं: विनायक, भोनरावली, भीमबेटका, लाखा जुआर (पूर्व और पश्चिम), झोंद्रा और मुनी बाबकी पहाड़ी)

24. Chhatrapati Shivaji Terminus (छत्रपति शिवाजी टर्मिनस) (formerly Victoria Terminus- पूर्व में विक्टोरिया टर्मिनस):(2004)

-Chhatrapati Shivaji Terminus is a historic railway station in Mumbai, which serves as the headquarters of the Central Railways.
(छत्रपति शिवाजी टर्मिनस मुंबई का एक ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन है, जो मध्य रेलवे के मुख्यालय के रूप में कार्य करता है)
-The Chhatrapati Shivaji Terminus, formerly known as Victoria Terminus Station, in Mumbai, is an outstanding example of Victorian Gothic Revival architecture in India.
(मुंबई में छत्रपति शिवाजी टर्मिनस, जिसे पूर्व में विक्टोरिया टर्मिनस स्टेशन कहा जाता है, भारत में विक्टोरियन गॉथिक रिवाइवल आर्किटेक्चर का उत्कृष्ट उदाहरण है)
-The building, designed by the British architect Frederick William Stevens.
(यह इमारत, ब्रिटिश वास्तुकार फ्रेडरिक विलियम स्टीवंस द्वारा डिजाइन की गई है)
-The station was built in 1887 in the Bori Bunder area of Mumbai to commemorate the Golden Jubilee of Queen Victoria.
(1887 में मुंबई के बोरीबंदर क्षेत्र में रानी विक्टोरिया की स्वर्ण जयंती मनाने के लिए यह स्टेशन बनाया गया था)
-The station’s name was changed from Victoria Terminus (with code VT) to Chhatrapati Shivaji Terminus (with code CST) in March 1996, in 2017, the station was again renamed Chhatrapati Shivaji Maharaj Terminus (code became CSMT).
(मार्च 1996 में स्टेशन का नाम विक्टोरिया टर्मिनस (कोड वीटी) से बदलकर छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (कोड सीएसटी) हो गया था 2017 में इस स्टेशन का नाम फिर से छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस (कोड सीएसएमटी बन गया) हो गया)

25. Champaner-Pavagadh Archaeological Park (चंपानेर-पावगढ़ पुरातात्विक पार्क):(2004)

-Champaner-Pavagadh Archaeological Park,is located in Panchmahal district in Gujarat, India.
(चंपानेर-पावगढ़ पुरातात्विक पार्क,पंचमहल जिले  गुजरात, भारत में स्थित है)
-It is located around the historical city of Champaner, a city which was built by Sultan Mahmud Begada(in the 16th century) of Gujarat.
(यह चंपानेर के ऐतिहासिक शहर जो कि गुजरात के सुल्तान महमूद बेगड़ा द्वारा (16 वीं शताब्दी में) में बनाया गया था के पास स्थित है)
-The Kalikamata Temple & Jain Temple on top of the Pavagadh Hill is considered to be an important shrine.
(पावागढ़ पहाड़ी के ऊपर कालिकामाता मंदिर और जैन मंदिर को एक महत्वपूर्ण मंदिर माना जाता है)
-The site is the only complete and unchanged Islamic pre-Mughal city.
(यह स्थान पूर्व-मुगल शहर एकलौता पूरा और अपरिवर्तित इस्लामी स्थान है)

26. Red Fort Complex (रेड फोर्ट काम्प्लेक्स):(2007)

-The Red Fort is a historic fort in the city of Delhi in India.
(लाल किला भारत के दिल्ली शहर में एक ऐतिहासिक किला है)
-The Red Fort Complex was built as the palace fort of Shahjahanabad – the new capital of the fifth Mughal Emperor of India, Shah Jahan(in the 17th century).
(लाल किला परिसर शाहजहांबाद के महल के किले के रूप में- भारत के पांचवें मुगल सम्राट शाहजहां की नई राजधानी, (17 वीं शताब्दी में) के लिए बनाया गया था.
-It is adjacent to the Salimgarh Fort on its north built by Islam Shah Suri in 1546 and is now part of the Red Fort Complex.
(1546 में इस्लाम शाह सूरी द्वारा निर्मित सलीमगढ़ किला(लाल किलाके उत्तर में) के निकट है और अब लाल किले परिसर का हिस्सा है)
-The architectural design of the structures built within the fort represents a blend of Persian, Timuri and Indian architectural styles.
(किले के भीतर निर्मित संरचनाओं का वास्तुशिल्प डिजाइन फ़ारसी, तिमुरी और भारतीय स्थापत्य शैली के मिश्रण को दर्शाता है)
-Isfahan, the Persian Capital is said to have provided the inspiration to build the Red Fort Complex.
(कहा जाता है कि ‘इस्फहान’, फारसी राजधानी ने लाल किले परिसर के निर्माण की प्रेरणा प्रदान की थी)
-The palace within the fort complex, located behind the Diwan-i-Am (Hall of Public Audience), comprises a series of richly engraved marble palace pavilions, interconnected by water channels called the ‘Nehr-i-Behishit’ meaning the “Stream of Paradise”, the Diwane-i-khas (Private audience hall), several other essential private structures, and also the Moti Masjid (Pearl Mosque built by Emperor Aurangzeb).
(दिवान-ए-आम (हॉल ऑफ पब्लिक ऑडियंस) के पीछे स्थित किले परिसर के भीतर, महल में ‘नेहर-ए-बेहिशित’ नामक जल चैनलों से जुड़े हुए बड़े पैमाने पर संगमरमर महल पैवेलियनों की एक श्रृंखला शामिल है, जिसका अर्थ है “धारा स्वर्ग “, दिवान-ए-खास (निजी प्रेक्षक हॉल), कई अन्य आवश्यक निजी संरचनाएं और मोती मस्जिद (सम्राट औरंगजेब द्वारा निर्मित मोती मस्जिद))

27. The Jantar Mantar, Jaipur (जंतर मंतर, जयपुर):(2010)

-The Jantar Mantar, in Jaipur, is an astronomical observation site built in the early 18th century,built by Maharaja Sawai Jai Singh II between 1727 and 1734.
(जयपुर में जंतर मंतर, एक खगोलीय अवलोकन स्थल है, जिसे 18वीं सदी की शुरुआत में महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय द्वारा 1727 और 1734 के बीच बनाया गया था)
-He had constructed a total of five such facilities at different locations, including the ones at Delhi and Jaipur.
(उन्होंने दिल्ली और जयपुर समेत विभिन्न स्थानों पर कुल पांच ऐसी सुविधाओं का निर्माण किया था)
-The Jaipur observatory is the largest and best preserved of these and has a set of some 20 main fixed instruments built in masonry(Samrat Yantra, the Jaya Prakasa, and the Rama Yantra etc).
(जयपुर वेधशाला इन सबसे बड़ी और सबसे अच्छी तरह से संरक्षित है और इसमें चिनाई में निर्मित कुछ 20 मुख्य निश्चित उपकरणों का एक सेट है (सम्राट यंत्र, जया प्रकासा और राम यंत्र आदि))
-The instruments allow the observation of astronomical positions with the naked eye.
(ये उपकरण नग्न आंखों के साथ खगोलीय स्थितियों के अवलोकन हेतु निर्मित हुए थे)

28. Western Ghats (पश्चिमी घाट):(2012)

-Western Ghats, also known as the Sahyadri Mountains chain of mountains running parallel to India’s western coast, approximately 30-50 km inland, the Ghats traverse the States of Kerala, Tamil Nadu, Karnataka, Goa, Maharashtra and Gujarat.
(पश्चिमी घाट जिन्हें भारत के पश्चिमी तट के समांतर समान रूप से बने पहाड़ों की सह्याद्री पर्वत श्रृंखला के रूप में जाना जाता है, लगभग 30-50 किमी अंतर्देशीय, घाट केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र और गुजरात राज्यों से परे जा रहे हैं.)
-It is one of the eight “hottest hot-spots” of biological diversity in the world.
(यह दुनिया में जैविक विविधता के आठ “महत्वपूर्ण हॉट-स्पॉट” में से एक है)
-The forests of the site include some of the best representatives of non-equatorial tropical evergreen forests anywhere and are home to at least 325 globally threatened flora, fauna, bird, amphibian, reptile and fish species.
(ये वन गैर भूमध्यीय उष्ण कटिबंधीय सदाबहार वनों के  जो की कम से कम ३२५ प्रकार के दुर्लभ वनस्पति, पशुवर्ग, जीव, पक्षी, उभयचर, सरीसृप और मछली प्रजातियों को अपने में समाहित करता है.)
-Western Ghats has many peaks that rise above 2,000 meters with Anamudi(2,695 m (8,842 ft)) being the highest peak.
(पश्चिमी घाटों में कई चोटियां हैं जो 2,000 मीटर से अधिक ऊंची हैं,इनमे अनमूडी (2,695 मी (8,842 फीट) सबसे ऊँची चोटी हैं)
-The major river systems originating in the Western Ghats are Godavari, Kaveri, Krishna, Thamiraparani and Tungabhadra.
(पश्चिमी घाटों में उत्पन्न होने वाली प्रमुख नदी व्यवस्थाओं में गोदावरी, कावेरी, कृष्णा, थमिरपरानी और तुंगभद्रा हैं)



You may also like to read:

                                                   

Download Upcoming Government Exam Calendar 2021

×

Download success!

Thanks for downloading the guide. For similar guides, free study material, quizzes, videos and job alerts you can download the Adda247 app from play store.

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

×
Login
OR

Forgot Password?

×
Sign Up
OR
Forgot Password
Enter the email address associated with your account, and we'll email you an OTP to verify it's you.


Reset Password
Please enter the OTP sent to
/6


×
CHANGE PASSWORD